आबू रोड: राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने संयुक्त मुख्य प्रशासिका बीके मुन्नी से की मुलाकात

0
46

आबू रोड,राजस्थान। राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ब्रह्माकुमारीज संस्थान के अंतरराष्ट्रीय मुख्यालय शातिवन पहुंचे। वे सीधे दादी कॉटेज पहुंचे। जहां वे संस्थान की संयुक्त मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी बीके मुन्नी दीदी, मल्टी मीडिया चीफ बीके करुणा, ग्लोबल अस्पताल के चिकित्सा निदेशक डॉ प्रताप मिडढा तथा वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके उषा से मुलाकात की।

इस दौरान पूर्व सीएम ने ब्रह्माकुमारीज संस्थान के साथ यादों को ताजा करते हुए कहा कि दादी प्रकाशमणि जी ने हमें ओम शांति का मंत्र दिया था। कहा था कि जब भी कोई तनाव आये तो ओम शांति बोलना। मैं आज भी उसे याद रखता हूॅ। मैंने ओम शांति के मंत्र के कारण ही पांच साल सरकार चला सका। मुलाकात में संस्थान की संयुक्त मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी बीके मुन्नी ने कहा कि ईश्वर का साथ हमेशा हमें सफलता  दिलाता है। इसलिए परमात्मा को साथ रखकर प्रत्येक कर्म करना चाहिए। पूर्व सीएम ने ब्रह्माकुमारीज संस्थान के कार्यों की सराहना की।

मुलाकात के दौरान वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके उषा ने ओम शांति का मतलब समझाते हुए कहा कि यदि हमें अपने प्रतिदिन की दिनचर्या में इसे याद रखें तो कभी मुष्किलों का सामना नहीं करना पड़ेगा। जिसपर पूर्व सीएम अशोक गहलौत ने राजयोग मेडिटेशन कोर्स करने की इच्छा जताई। तत्पष्चात बीके मुन्नी तथा बीके करुणा ने उन्हें ईष्वरीय सौगात भेंटकर सम्मानित किया।

अव्यक्त लोक पर किया पुष्पांजलिः इसके बाद वे दादी काटेज से अव्यक्त लोक पैदल ही गये, तथा दादी गुलज़ार ज़ी के अव्यक्त लोक पर पुष्पांजलि अर्पित कर अपनी श्रद्धांजलि दी, इस मौके आबू रोड रेवदर विधायक मोतीराम कोली, प्रदेश कांग्रेस के महासिचव हरीश चैधरी, पूर्व विधायक संयम लोढ़ा, ब्रह्माकुमारीज के वरिष्ठ सदस्य बीके प्रकाष, संस्थान के पीआरओ बीके कोमल, सफाई विभाग प्रमुख बीके जगदीष, निम्बाराम गरासिया, पुखराज गहलौत, अमित जोशी समेत कई लोग उपस्थित रहे….तकरीबन आधे घंटे की मुलाकात में वे संस्थान की सेवाओं को बारिकी से समझा तथा ईष्वरीय ज्ञान चर्चा की।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें