मुख पृष्ठस्वास्थ्य के लिएबवासीर का इलाज ....... आपके घर में

बवासीर का इलाज ……. आपके घर में

आज के समय में बवासीर की समस्या 20-25 और 30-35 की उम्र के व्यक्ति को बहुत ही तेजी से हो रही है। जिसके दो मुख्य कारण हैं। सबसे पहले खाने में रेशे की कमी होना माना फाइबर की कमी होना। जो लोग वेजिटेबल, नट्स, सीड्स आदि नहीं खाते इसकी वजह से उनको कब्ज की समस्या हो जाती है और उसी की वजह से बवासीर की समस्या आना निश्चित होता है। दूसरा कारण ये होता है कि कम उम्र में सिगरेट, दारु का सेवन करना जिसकी वजह से उनका डायजेस्टिव सिस्टम खराब होने लगता है जिससे उनका खाना पच नहीं पाता और फिर बवासीर की समस्या होने लगती है। तो इसका हम एक घरेलू उपाय कर सकते हैं…
सबसे पहले आपको एक गिलास लेना है। और फिर आधा गिलास गुनगुना पानी लेंगे। फिर उसमें 1 चम्मच(टी स्पून) जीरा डालें। जीरे में कुछ ऐसे गुण पाए जाते हैं जैसे फाइबर, ओमेगा3, ओमेगा6, ओमेगा9 जो कि आपके पाचन को ठीक करता है और आपके खाने को अच्छे से पचाता है। फिर जीरे को अच्छे से मिक्स कर देना है। इसे 15-20 मिनट तक ऐसे ही छोड़ दें। और जब इसके सारे पोषक तत्व पानी में मिक्स हो जायेंगे तो आपको इस पानी को एक साफ गिलास के अन्दर छान लेना है। और दूसरा इंग्रेडिएंट्स जो आपको लेना है जोकि बेहद खास है और आपके घर पर आसानी से उपलब्ध होगा। वो है नींबू। नींबू में सिट्रिक एसिड, विटामिन सी, एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जोकि आपकी पाचन क्रिया को ठीक करता है, आपके हेयर फॉल को रोकता है और आपके बालों में से डैंड्रफ को जड़ से समाप्त करता है। साथ ही साथ यह आपके मुंह की दुर्गंध को खत्म करता
है। और यह आपकी बवासीर के अन्दरूनी मस्सों को जड़ से समाप्त करके आपकी पाचन क्रिया को ठीक करता है। तो आपको करना क्या है, आपको आधा नींबू ले लेना है और अपने इस पानी में मिक्स कर लेना है। अब आपको इसके अन्दर लास्ट और आखिरी इंग्रेडिएंट जो मिलाना है वो भी आपके घर पर आसानी से मिल जायेगा। वो है हमारी अजवायन का पाउडर। अजवायन के पाउडर में कुछ ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो कि हम प्राचीन काल से इस्तेमाल करते आ रहे हैं,अपने पाचन क्रिया को ठीक करने के लिए। साथ ही साथ अपने मेटाबॉलिज़्म को स्ट्राँग करने के लिए। आपको अजवायन पाउडर जीरे का चौथा हिस्सा लेना है। फिर इन सभी को अच्छी तरह से मिला लें।

कब और कैसे लें…
इस नुस्खे को हर रोज़ एक बार सुबह खाली पेट लेना है और दूसरा शाम को लंच के एक से डेढ घंटे के बाद लेना है। इसे आपको एक सप्ताह तक करना है।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments