मुख पृष्ठआजादी के अमृत महोत्सव से स्वर्णिम भारत की ओरआबू रोड: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 10 मई को आएंगे ब्रह्माकुमारीज मुख्यालय शांतिवन

आबू रोड: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 10 मई को आएंगे ब्रह्माकुमारीज मुख्यालय शांतिवन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 10 मई को आएंगे ब्रह्माकुमारीज मुख्यालय शांतिवन
– दोपहर 3.15 से 4.15 बजे तक शांतिवन में रहेंगे पीएम,  प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर तैयारियां जारी
– पचास एकड़ में बनने वाले मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल निर्माण की नींव रखेंगे पीएम

आबू रोड , राजस्थान। अत्यंत हर्ष की बात है कि दिनांक 10 मई, 2023 को दोपहर 3.15 बजे ब्रह्माकुमारीज़ शांतिवन, आबू रोड में  ‘आध्यात्मिक प्रज्ञा से स्वर्णिम भारत‘ कार्यक्रम में भारत के माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित होकर जनसभा को संबोधित करेंगे। इसके अलावा अन्य नेतागण भी उपस्थित रहेंगे.

इस शुभ अवसर पर माननीय प्रधानमंत्री जी प्रकाशमणि विज़डम पार्क (आबू रोड) का उद्घाटन करेंगे। इसके अलावा Global Institute of Health Sciences, Nursing College और Senior Citizen Home का शिलान्यास करेंगे। इस कार्यक्रम का लाइव टेलीकास्ट 10 मई  Awakening TV, Peace of Mind Channel, DD National इत्यादि चैनल्स पर किया जायेगा। इस कार्यक्रम को आप सेवाकेन्द्रों पर बड़ी स्क्रीन लगाकर स्थानीय भाई-बहनों को बुलाकर दिखा सकते हैं। 

आप सभी आयोजन की सफलता के लिए प्रतिदिन सुबह और शाम कम से कम आधे घंटे का विशेष योग का दान अवश्य करें।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 10 मई को ब्रह्माकुमारीज संस्थान के अंतरराष्ट्रीय मुख्यालय शांतिवन आबू रोड आएंगे। यहां विशाल डायमंड हाल में सभा को संबोधित करने के साथ संस्थान द्वारा 50 एकड़ में बनने वाले मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल, सीनियर सिटीजन होम के सेकंड फेज और नर्सिंग कॉलेज के एक्सटेंशन की नींव रखेंगे। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार प्रधानमंत्री दोपहर 3.15 बजे से 4.15 बजे तक शांतिवन में रहेंगे।
संस्थान के कार्यकारी सचिव डॉ. बीके मृत्युंजय भाई ने बताया कि प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदीजी का पहली बार संस्थान के अंतरराष्ट्रीय मुख्यालय में आगमन हो रहा है। इसे लेकर भाई-बहनों में हर्ष का माहौल है। साथ ही पीएम के आगमन को लेकर शांतिवन में तैयारियां की जा रही हैं। कार्यक्रम स्थल डायमंड हॉल को विशेष रूप से सजाया जा रहा है। इस दौरान पीएम संस्थान की मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी रतनमोहिनी से भी मुलाकात कर आशीर्वाद लेंगे। इसके अलावा वरिष्ठ पदाधिकारियों से भी मुलाकात करेंगे।

तैयारियों को दिया जा रहा है अंतिम रूप-
कार्यकारी सचिव डॉ. बीके मृत्युंजय भाई ने बताया कि पीएम मोदी के आगमन को लेकर शांतिवन में साज-सज्जा से लेकर अन्य व्यवस्थाओं के लिए अंतिम रूप दिया जा रहा है। जोर-शोर से तैयारियां जारी हैं। साथ ही प्रशासन के साथ सुरक्षा- व्यवस्था को लेकर मंथन का दौर जारी है। अधिकारियों के साथ बैठकों का दौर जारी है।

चप्पे-चप्पे पर रहेगी सुरक्षा- व्यवस्था-
पीएम के आगमन को लेकर चप्पे-चप्पे पर जवान तैनात रहेंगे और पुख्ता सुरक्षा के इंतजाम किए जाएंगे। इसे लेकर एसपीजी के मार्गदर्शन में सुरक्षा की दृष्टि से एक-एक चीज को बारीकी से परखा जा रहा है। जिला कलक्टर, एसपी, जिला पंचायत सीईओ, आबू रोड एसडीएम से लेकर अन्य वरिष्ठ अधिकारी लगातार व्यवस्थाओं की मानिटरिंग कर रहे हैं।

250 बैड का बनेगा हॉस्पिटल, दो साल में बनकर हो जाएगा तैयार
– न्यूरोलॉजी से लेकर यूरोलॉजी के इलाज की सुविधा मिलेगी

शांतिवन के डॉयमंड हॉल से मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल का शिलान्यास करेंगे। पचास एकड़ के विशाल परिसर में यह हॉस्पिटल दो साल में बनकर तैयार हो जाएगा। इसकी क्षमता 250 बैड की रहेगी।
माउंट आबू स्थित ग्लोबल हॉस्पिटल एंड रिसर्च हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉ. प्रताप मिड्ढा ने बताया कि सामाजिक जिम्मेदारी निभाते हुए ब्रह्माकुमारीज की ओर से 50 एकड़ में आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल का निर्माण किया जाएगा। इससे स्थानीय जरूरतमंद लोगों को सहज ही इलाज की सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। अभी तक यह व्यवस्था केवल बड़े शहरों में ही है। सबसे अहम बात हॉस्पिटल में तन के साथ मन का इलाज भी किया जाएगा। इसमें विशेष रूप से मेडिटेशन रूम बनाए जाएंगे ताकि दवा और दुआ दोनों के समन्वय से लोग जल्दी स्वस्थ हो सकें। हॉस्पिटल में आधुनिक उपकरणों के साथ विशेषज्ञ डॉक्टर अपनी सेवाएं देंगे। डॉ. मिड्ढा ने बताया कि हॉस्पिटल निर्माण के साथ नर्सिंग कॉलेज का भी विस्तार किया जा रहा है। इससे पहले से ज्यादा सुविधाएं मरीजों को मिल सकेंगी।

ये सुविधाएं मिलेंगी-
हॉस्पिटल में मुख्य रूप से न्यूरोलॉजी, न्यूरोसर्जरी, नेफ्रोलॉजी और यूरोलॉजी की विशेष यूनिट शुरू की जाएगी। इसमें जाने-माने विषय विशेषज्ञ डॉक्टर अपनी सेवाएं देंगे। इसके अलावा प्रिवेंटिव कार्डियोलॉजी, पैलिएटिव केयर और जेरिएट्रिक केयर (वरिष्ठ नागरिक गृह) की भी सुविधा रहेगी। साथ ही तीसरे साल में हॉस्पिटल में गैस्ट्रोएंटरोलॉजी और एंडोक्रिनोलॉजिस्ट के इलाज की सुविधा प्रदान करने का लक्ष्य रखा गया है।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments