पपीते के फायदे जान इसे खाने से खुद को रोक नहीं पायेंगे…!!!

0
240

पपीता एक ऐसा फल है जिसे भारत सहित दुनिया भर में खूब खाया जाता है। खासतौर पर फिटनेस फ्रीक्स तो इसके दीवाने हैं, क्योंकि इसका स्वाद भी बहुत खास होता है। स्वाद और पोषण से भरपूर पपीता कई ऐसे महत्त्वपूर्ण पोषक तत्वों का भंडार है, जो हमारे पूरे शरीर के लिए फायदेमंद है। आपको बता दें कि पपीते में कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, प्रोटीन, विटामिन सी, विटामिन ए, विटामिन बी9, पोटैशियम और मैग्नीशियम एक बेहतरीन स्रोत है। इसके साथ ही इसमें कैल्शियम, विटामिन बी1, विटामिन बी3, विटामिन ई और विटामिन के जैसे पोषक पाए जाते हैं। जो शरीर को कई लाभ पहुंचाने में मदद कर सकते हैं तो चलिए जानते हैं पपीता खाने का सही समय और फायदे…

पपीता खाने के फायदे

1. पाचन को मजबूत करने के लिए अगर आप पाचन सम्बंधी समस्या से परेशान हैं तो आप अपनी डाइट में पपीते को शामिल कर सकते हैं। पपीते में मौजूद पपेन नामक एंजाइम प्रोटीन को आसानी से पचने में मदद कर सकता है।

2. बालों को हेल्दी रखने के लिए स्कैल्प और हेयर टिशू को ग्रो करने के लिए आप पपीते का सेवन कर सकते हैं। पपीते में विटामिन ए मौजूद होता है और विटामिन ए सीबम को प्रोड्यूस करने वाले आवश्यक पोषक तत्वों में से एक है। सीबम बालों की नमी को बनाए रखने में मददगार है।

3. हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए अगर आप भी कमज़ोर हड्डियों की समस्या से परेशान हैं तो रोज़ाना सुबह पपीते का सेवन करें। पपीते में भरपूर मात्रा में विटामिन के मौजूद होता है। जो कैल्शियम के अवशोषण को बढ़ावा देने का काम करता है। जिससे हड्डियों को मजबूत बना सकते हैं।

4. स्किन को हेल्दी रखने के लिए पपीता स्किन को फ्री रेडिकल से होने वाले डैमेज से बचाव करने में मददगार माना जाता है। प्रोडक्ट इतना ही नहीं ये रिंकल, फाइनलाइन जैसी समस्याओं से बचाने में भी मदद कर सकता है।

५. कमज़ोरी दूर करने में करता मदद अगर लंबी बीमारी के कारण या पौष्टिकता की कमी के वजह से कमज़ोरी महसूस हो रही है तो पपीता का इस तरह से सेवन करने पर लाभ मिलता है। पपीता के कच्चे फलों का साग बनाकर सेवन करने से अग्नि मांद्य तथा कमज़ोरी में लाभ होता है। कहने का मतलब यह है कि पपीता खाने से कमज़ोरी दूर होने में मदद मिलती है।

६. आँखों की रोशनी बढ़ाने में सहायक पपीते में विटामिन ए और सी पाए जाने के कारण यह आँखों के लिए भी लाभकारी होता है।

७. पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द से दिलाये राहत पीरियड्स के दौरान होने वाला दर्द वात दोष के अधिक बढऩे के कारण होता है। पपीते में वात शामक गुण पाए जाने के कारण यह इसमें राहत देता है।

८. गठिया के दर्द से दिलाये राहत गठिया का रोग वात दोष के बढऩे के कारण होता है। पपीते में पाए जाने वाले वात शामक गुण इस रोग के लक्षणों को कम करने में भी मदद करता है।

पपीता का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए – बीमारी के लिए पपीता के सेवन और इस्तेमाल का तरीका पहले ही बताया गया है। अगर आप किसी खास बीमारी के इलाज के लिए पपीता का उपयोग कर रहे हैं तो आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह ज़रूर लें।

प्रो टिप्स – पपीते का सुबह खाली पेट सेवन सबसे अच्छा माना जाता है। लेकिन अगर आप रात के समय इसे खाते हैं तो सीमित मात्रा में ही इसका सेवन करें।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें