सकारात्मक सोच की शक्ति

0
299

एक बार की बात है एक बहुत ही दयावान आदमी था। वह हर रोज़ सुबह घर से काम के लिए निकलते हुए कुछ लोगों की मदद करता था, जैसे सबसे पहले वह एक घर की बालकनी से गिरते हुए पानी को व्यर्थ होने से बचाने के लिए वहाँ एक छोटे से पौधे वाला गमला रख देता है। जिससे पानी उस पौधे पर गिरे। इसके बाद वह थोड़ा और आगे जाता है वहाँ एक आदमी का ठेला एक गड्ढे में फंस जाता है, उसकी मदद के लिए कोई आगे नहीं आता तब वह आदमी उसकी मदद करता है। इसके बाद थोड़ा और आगे चलने पर एक बहुत ही गरीब लड़की जो पढऩा चाहती है, वहाँ फुटपाथ पर बैठकर भीख मांगती है ताकि कुछ पैसे इकट्ठे हो सकें और वह पढ़ाई कर सके। वह आदमी उसे रोज़ कुछ पैसे देता है।
इस तरह वह रोज़ कुछ लोगों की मदद करता है, ऐसा वह हर रोज़ करता है। एक दूसरा आदमी उस आदमी को यह सारे काम हर रोज़ करते देखता है।
एक दिन उस दूसरे आदमी ने उस आदमी से पूछा कि – ”भाई साहब आप रोज़ इन लोगों की मदद करते हैं लेकिन इससे क्या फर्क पड़ेगा? इससे केवल समय की बर्बादी होगी”। तब वह आदमी उस दूसरे आदमी से कहता है कि – ”इससे मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता, इससे आपको भी कोई फर्क नहीं पड़ेगा और इससे इस दुनिया में भी किसी को कोई फर्क नहीं पड़ेगा किन्तु जो मैं करता हूँ वह मेरा फर्ज है, मैं सिर्फ अपना फर्ज निभा रहा हूँ और फर्ज निभाने में समय की बर्बादी नहीं होती।” ऐसा कह कर वह वहाँ से चला जाता है। ऐसा करते-करते कुछ दिन बीत जाते हैं और फिर एक दिन वह देखता है कि वह बालकनी के नीचे रखा हुआ पौधा बड़ा हो गया है। फिर थोड़ा आगे जाकर वह हर रोज़ की तरह उस ठेले वाले आदमी की मदद के लिए जाता है तो देखता है कुछ और लोग उसकी मदद कर रहे हैं। फिर थोड़ा और आगे उस लड़की को पैसे देने के लिए जाता है तो देखता है कि वह लड़की वहाँ नहीं है, वह उसका वहीं इंतज़ार करता है, थोड़ी देर बाद वह लड़की एक स्कूल की यूनिफार्म पहनकर उसके सामने आती है।
यह सब देखकर वह बहुत खुश होता है लेकिन वह दूसरा आदमी भी यह सब देख रहा होता है, और यह सब देख कर उसे समझ आता है कि एक आदमी ने कोशिश की तो किसी का कितना भला हो गया इसी तरह यदि और लोग भी ऐसा करने लगें तो इस देश की पूरी सूरत ही बदल सकती है।
शिक्षा : इस कहानी से यह प्रेरणा मिलती है कि हमें नकारात्मक न सोच सकारात्मक सोचना चाहिए। व्यर्थ ही पैसे खर्च करने से अच्छा है कि किसी ज़रूरतमंद की मदद करें, क्योंकि इससे आपको खुशी मिलेगी और किसी को नया जीवन मिल जायेगा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें