जि़ंदगी बदल देने वाला… वो एक मिनट

0
162

एक मिनट, समय का इतना छोटा हिस्सा है कि इसके यूं ही बीत जाने को लेकर कभी कोई चिंता नहीं होती, लेकिन यही एक मिनट जीवन बदल देने का सामथ्र्य रखता है। साल की शुरुआत में यह जानकारी आपकी जि़ंदगी में भी एक नई शुरुआत दे सकती है।

सिर्फ एक मिनट! वक्त का वह हिस्सा, जिसका निवेश आप इस पन्ने को पढऩे में कर रहे हैं। हो सकता है यह कोई बड़ा सौदा न लगे परंतु हम आपको बता दें कि यह एक बहुत बड़ा सौदा है क्योंकि एक मिनट ही आपके सपनों को साकार करने का शुरुआती बिंदु है। एक महान जीवन सिर्फ एक मिनट से शुरु होता है। इसलिए हमें हर मिनट को सहेजना चाहिए, श्रेष्ठ बनाना चाहिए, और इसका प्रयोग समझदारी से करना चाहिए। समय तो बढ़ रहा है, क्या आप भी…? प्रत्येक व्यक्ति को हर दिन में 24 घंटे दिये गये हैं और उसके खाते में 1440 मिनट जमा किये गये हैं। जब ये मिनट खर्च हो जाते हैं तो आप उस दिन में और मिनट नहीं जोड़ सकते। आप थोड़ा-सा भी अतिरिक्त समय नहीं खरीद सकते, चाहे आपके पास कितना ही पैसा हो या आप कितने ही शक्तिशाली हों। समय किसी का इंतज़ार नहीं करता और लगातार आगे बढ़ता रहता है। यह किसी वस्तु या व्यक्ति के लिए नहीं रुकता। इसे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कितने धनी हैं या कितने शक्तिशाली हैं या कितने प्रतिष्ठित हैं। समय लगातार आगे बढ़ता रहता है। हर मिनट कीमती है क्योंकि इसके बदलने में दूसरा मिनट नहीं मिलता। एक बार यह दिन गुज़र जाये तो हम इस बीते हुए समय को बदल नहीं सकते। हर दिन के समय की अपनी एक अलग इकाई होती है और इसे दोबारा नहीं जिया जा सकता। एक बार बीतने के बाद यह खत्म हो जाता है और चला जाता है। इसीलिए हमें इसका उपयोग समझदारी से करना चाहिए। किसी का एक बहुत महत्त्वपूर्ण सूत्र है क्रआज मैं जो कर रहा हूँ, वह महत्त्वपूर्ण है क्योंकि मैं इसके बदले में अपने जीवन का एक दिन क्रकीमतञ्ज दे रहा हूँ। मेरी उपलब्धि महत्त्वपूर्ण होनी चाहिए क्योंकि कीमत बहुत ज्य़ादा है।ञ्ज अपने मिनटों का करें सर्वश्रेष्ठ उपयोग हम सबके पास एक दिन में 24 घंटे होते हैं। न एक मिनट ज्य़ादा न एक मिनट कम। सफलता की कुंजी यह है कि आप इन मिनटों का क्या कर रहे हैं जो आपको दिये गये हैं? उदाहरण के तौर पर हम सबके पास 24 मालवाहक ट्रक हैं जो हमें हर दिन दिये जाते हैं, आप इन्हें धूल से भरते हैं या फिर हीरों से, यह आपके हाथ में है। बिल गेट्स के पास भी एक दिन में 24 घंटे होते हैं और सफाई करने वाले हमारे मित्र के पास भी। उन दोनों के बीच अंतर यह है कि वे अपने दिए गए समय का अलग-अलग तरह से उपयोग करते हैं। जब हम बात करते हैं तो सफाई वाला हमारा मित्र हमेशा कहता है क्रमैं यह करने जा रहा हूँ, मैं वह करने जा रहा हूँ, मैं अपने जीवन में इससे बड़ा करने जा रहा हूँ।ञ्ज परंतु वह कभी नहीं करता। अगले दिन वह वहीं लौट आता है और सिक्कों के बदले में सफाई करता है। जबकि उसमें डॉलर कमाने की क्षमता है। वह अपने मिनटों को धूल से भरता है जबकि वह उन्हें हीरों से भर सकता था। चाहे हम जीवन में कहीं भी हों, हमारे पास चुनने के लिए विकल्प होता है। अपने समय का उपयोग समझदारी से करें। सचमुच, एक मिनट में चमत्कार होता है आपको अपनी जि़ंदगी बदलने में कितना समय लगता है। अधिकांश लोग समझते हैं कि इसमें लम्बा समय लगता है, परंतु ये सोच सही नहीं, वास्तव में इसमें सिर्फ एक मिनट लगता है। जिस मिनट आप सचमुच बदलने का फैसला करते हैं और एक अलग दिशा में आगे बढऩे की चुनौती स्वीकार करते हैं, उसी मिनट आप सचमुच अपनी जि़ंदगी बदल लेते हैं। लम्बा समय तो निर्णय लेने में लगता है। आप अनिश्चय की स्थिति में इधर से उधर भटकते हैं कि आपको क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए। आप परिवर्तन के मुद्दे पर कश्मकश में होते हैं। कई लोग तो इस बारे में इतने लम्बे समय तक सोचते हैं कि वे क्रविश्लेषण के लकवेञ्ज से ग्रस्त हो जाते हैं। वे इतने लम्बे समय तक वाद-विवाद करते हैं कि दरअसल कुछ भी नहीं हो पाता। परंतु जिस मिनट आप फैसला करते हैं और कर्म में जुटते हैं, उसी मिनट आप सचमुच अपना जीवन बदलते हैं। कुंजी यह है कि आप जहाँ भी हैं और जो भी हैं अपने द्वारा चुने गये विकल्पों या न चुने गए विकल्पों के कारण हैं। जीवन को अपने हिसाब से ढालें वरना जीवन आपको अपने हिसाब से ढाल लेगा। या तो आप फैसला करें या तो जीवन आपके लिए फैसला कर देगा। हममें से न जाने कितने लोगों ने निर्णय न लेने का निर्णय लिया है, परंतु इसके बावजूद जीवन आगे बढ़ा है तथा हमारे लिए कोई निर्णय ले लिया है। जिस मिनट आप निर्णय लेते हैं और उस निर्णय के हिसाब से काम करते हैं, उसी मिनट आप अपनी जि़ंदगी बदल लेते हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें