सेल्फ हेल्प

0
273

कभी भी आलोचना को खुद पर हावी न होने दें

उन नाखुश करने वाले लोगों से आप दूर रहें अपने मन को सकारात्मक बनाने का प्रण लें। जहाँ से सकारात्मक ऊर्जा मिलती है उन्हें पढ़े-लिखें। सामान्य चीज़ों में आनंद लें। परिस्थितियों का श्रेष्ठ इस्तेमाल करें। किसी के पास बस कुछ नहीं होता। कला ये है कि हँसी और खुशी को आँसुओं से ज्य़ादा कैसे बनाया जाए। आप सबको खुश नहीं कर सकते। आलोचना को हावी न होने दें। वो करें जिसे करने में आनंद आता है। आनंद में वृद्धि होती हो। गुस्से को न पालें। उन लोगों से दूर रहें जो नाखुश करते हैं। सफलता का रास्ता मेहनत से निकलता है धैर्य रखकर ही मुश्किलों का सामना किया जा सकता है। दृढ़ता कभी न हार मानने की ताकत देती है। लक्ष्य हासिल करने के लिए इनकी ज़रूरत पड़ती है। कई लोगों में इन दोनों की कमी होती है। लोगों को सफलता चाहिए, लेकिन मेहनत और त्याग नहीं करना चाहते। नतीजा ये कि आसानी से हार मान लेते हैं। सफलता का रास्ता मेहनत और असफलता से होकर निकलता है। हर सुबह की शुरूआत इन दो शब्दों से करें अगर आप कामयाब होना चाहते हैं, उम्मीद रखते हैं, तो कामयाब हो जायेंगे। अगर आप खुश और लोकप्रिय होना चाहते हैं तो आप खुश और लोकप्रिय होते हैं। अगर आप स्वस्थ और समृद्ध होना चाहते हैं तो आप स्वस्थ और समृद्ध हो जायेंगे। भविष्य के बारे में हमेशा सकारात्मक सोचें और बोलें। सुबह की शुरूआत इन दो शब्दों से करें कि- क्रमुझे विश्वास है आज मेरे साथ बहुत अच्छा होगा।ञ्ज लंबे, सुखी व स्वस्थ जीवन की गारंटी है मनपसंद काम सेहतमंद जीवन की खोज में हमने अनजाने ही जीवन के लिए अति आवश्यक, सबसे महत्त्वपूर्ण तथ्य को ही खो दिया है। ये तथ्य है कि वह काम जिसको करके हम खुश होते हैं। शोध बताते हैं कि लंबी उम्र और मनपसंद कार्य में सीधा सम्बन्ध होता है। अगर किसी काम में मजा आ रहा है, तो उसे हमेशा करते रहें। यह लंबे, सुखी और स्वस्थ जीवन की सर्वश्रेष्ठ गांरटी है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें